Options Trading: क्‍या होती है ऑप्‍शंस ट्रेडिंग? कैसे कमाते हैं इससे मुनाफा और क्‍या हो आपकी रणनीति

Options Trading: निश्चित ही ऑप्‍शंस ट्रेडिंग एक जोखिम का सौदा है. हालांकि, अगर आप बाजार के बारे में जानकारी रखते हैं और कुछ खास रणनीति बनाकर चलते हैं तो इससे मुनाफा अर्जित कर सकते हैं.

By: मनीश कुमार मिश्र | Updated at : 18 Oct 2022 03:40 PM (IST)

ऑप्‍शंस ट्रेडिंग ( Image Source : Getty )

डेरिवेटिव सेगमेंट (Derivative व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? Segment) भारतीय बाजार के दैनिक कारोबार में 97% से अधिक का योगदान देता है, जिसमें ऑप्शंस एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनता है. निवेशकों के बीच बाजार की जागरूकता बढ़ने के साथ, ऑप्शंस ट्रेडिंग (Options Trading) जैसे डेरिवेटिव सेगमेंट (Derivative Segment) में रिटेल भागीदारी में उछाल आया है. इसकी मुख्‍य वजह उच्च संभावित रिटर्न और कम मार्जिन की आवश्यकता है. हालांकि, ऑप्शंस ट्रेडिंग में उच्च जोखिम शामिल है.

क्‍या है ऑप्‍शंस ट्रेडिंग?

Options Trading में निवेशक किसी शेयर की कीमत में संभावित गिरावट या तेजी पर दांव लगाते हैं. आपने कॉल और पुष ऑप्‍शंस सुना ही होगा. जो निवेशक किसी शेयर में तेजी का अनुमान लगाते हैं, वे कॉल ऑप्‍शंस (Call Options) खरीदते हैं और गिरावट का रुख देखने वाले निवेशक पुट ऑप्‍शंस (Put Options) में पैसे लगाते हैं. इसमें एक टर्म और इस्‍तेमाल किया जाता है स्‍ट्राइक रेट (Strike Rate). यह वह भाव होता है जहां आप किसी शेयर या इंडेक्‍स को भविष्‍य में जाता हुआ देखते हैं.

जानकारी के बिना ऑप्शंस ट्रेडिंग मौके का खेल है. ज्‍यादातर नए निवेशक ऑप्शंस में पैसा खो देते हैं. ऑप्शंस ट्रेडिंग में जाने से पहले कुछ बुनियादी बातों से परिचित होना आवश्यक है. मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के हेड - इक्विटी स्ट्रैटेजी, ब्रोकिंग एंड डिस्ट्रीब्यूशन हेमांग जानी ने ऑप्‍शंस ट्रेडिंग को लेकर कुछ दे रहे हैं जो आपके काम आ सकते हैं.

News Reels

धन की आवश्यकता: ऑप्शंस की शेल्फ लाइफ बहुत कम होती है, ज्यादातर एक महीने की, इसलिए व्यक्ति को किसी भी समय पूरी राशि का उपयोग नहीं करना चाहिए. किसी विशेष व्यापार के लिए कुल पूंजी का लगभग 5-10% आवंटित करना उचित होगा.

ऑप्शन ट्रेड का मूल्यांकन करें: एक सामान्य नियम के रूप में, कारोबारियों को यह तय करना चाहिए कि वे कितना जोखिम उठाने को तैयार हैं यानी एक एग्जिट स्‍ट्रेटजी होनी चाहिए. व्यक्ति को अपसाइड एग्जिट पॉइंट और डाउनसाइड एग्जिट पॉइंट को पहले से चुनना होगा. एक योजना के साथ कारोबार करने से व्यापार के अधिक सफल पैटर्न स्थापित करने में मदद मिलती है और आपकी चिंताओं को अधिक नियंत्रण में रखता है.

जानकारी हासिल करें: व्यक्ति को ऑप्शंस और उनके अर्थों में आमतौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले कुछ जार्गन्स से परिचित होने का प्रयास करना चाहिए. यह न केवल ऑप्शन ट्रेडिंग से अधिकतम लाभ प्राप्त करने में मदद करेगा बल्कि सही रणनीति और बाजार के समय के बारे में भी निर्णय ले सकता है. जैसे-जैसे आप आगे बढ़ते हैं, सीखना संभव हो जाता है, जो एक ही समय में आपके ज्ञान और अनुभव दोनों को बढ़ाता है.

इलिक्विड स्टॉक में ट्रेडिंग से बचें: लिक्विडिटी बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह व्यक्ति को ट्रेड में अधिक आसानी से आने और जाने की अनुमति देता है. सबसे ज्यादा लिक्विड स्टॉक आमतौर पर उच्च मात्रा वाले होते हैं. कम कारोबार वाले स्टॉक अप्रत्याशित होते हैं और बेहद स्पेक्युलेटिव होते हैं, इसलिए यदि संभव हो तो इससे बचना चाहिए.

होल्डिंग पीरियड को परिभाषित करें: वक्‍त ऑप्शंस के मूल्य निर्धारण में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. प्रत्येक बीतता दिन आपके ऑप्शंस के मूल्य को कम करता है. इसलिए व्यक्ति को भी पोजीशन को समय पर कवर करने की आवश्यकता होती है, भले ही पोजीशन प्रॉफिट या लॉस में हो.
मुख्‍य बात यह जानना है कि कब प्रॉफिट लेना है और कब लॉस उठाना है. इनके अलावा, व्यक्ति को पोजीशन की अत्यधिक लेवरेज और एवरेजिंग से भी बचना चाहिए. स्टॉक ट्रेडिंग की तरह ही, ऑप्शंस ट्रेडिंग में ऑप्शंस खरीदना और बेचना शामिल है या तो कॉल करें या पुट करें.

ऑप्शंस बाइंग के लिए सीमित जोखिम के साथ एक छोटे वित्तीय निवेश की आवश्यकता होती है अर्थात भुगतान किए गए प्रीमियम तक, जबकि एक ऑप्शंस सेलर के रूप में, व्यक्ति बाजार का विपरीत दृष्टिकोण रखता है. ऑप्शंस को बेचते वक्त माना गया जोखिम मतलब नुकसान मूल निवेश से अधिक हो सकता है यदि अंतर्निहित स्टॉक (Underlying Stocks) की कीमत काफी गिरती है या शून्य हो जाती है.

ऑप्शंस खरीदते या बेचते समय कुछ नियमों का पालन करना चाहिए:

  • डीप-आउट-ऑफ-द-मनी (OTM) विकल्प केवल इसलिए न खरीदें क्योंकि यह सस्ता है.
  • समय ऑप्शन के खरीदार के खिलाफ और ऑप्शन के विक्रेता के पक्ष में काम करता है. इसलिए समाप्ति के करीब ऑप्शन खरीदना बहुत अच्छा विचार नहीं है.
  • अस्थिरता ऑप्शन के मूल्य को निर्धारित करने के लिए आवश्यक कारकों में से एक है. इसलिए आम तौर पर यह सलाह दी जाती है कि जब बाजार में अस्थिरता बढ़ने की उम्मीद हो तो ऑप्शंस खरीदें और जब अस्थिरता कम होने की उम्मीद हो तो ऑप्शंस बेचें.
  • प्रमुख घटनाओं या प्रमुख भू-राजनीतिक जोखिमों से पहले ऑप्शंस बेचने के बजाय ऑप्शंस खरीदना हमेशा बेहतर होता है.

नियमित अंतराल पर प्रॉफिट की बुकिंग करते रहें या प्रॉफिट का ट्रेलिंग स्टॉप-लॉस रखें. अगर सही तरीके से अभ्यास किया जाए तो ऑप्शंस ट्रेडिंग से कई गुना रिटर्न्स प्राप्‍त किया जा सकता है.

(डिस्‍क्‍लेमर : प्रकाशित विचार एक्‍सपर्ट के निजी हैं. शेयर बाजार व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? में निवेश करने से पहले अपने निवेश सलाहकार की राय अवश्‍य लें.)

Published at : 18 Oct 2022 11:42 AM (IST) Tags: Options Trading Derivatives व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? Call Option Put Option Trading in Options Stop loss हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: Business News in Hindi

पैसे कमाने में आपकी मदद करेंगी ये तीन बातें

आपके सपने, जरूरी कुशलता और कड़ी मेहनत मिलकर ही आपके स्वर्णिम भविष्य की राह तैयार करते हैं.

earn1-thinkstock

1. सपने जरूर देखें
सपने देखने का मतलब है इमेजिनेशन. यह आपको कुछ बड़ा करने के लिए प्रेरित करता है. जब आप कुछ बड़ा काम करने के सपने देखेंगे तो उसे पूरा करने के लिए जरूरी योग्यता हासिल करने की तरफ बढ़ेंगे. आपको इन सपनों को कैसे पूरा करना है, इस बारे में किसी कुशल व्यक्ति से दिशानिर्देश लेने की भी जरूरत है.

2. अपनी कुशलता की पहचान करें
आपको खुद के बारे में यह जानना होगा कि आप कौन सा काम बेहतर तरीके से कर सकते हैं. अपने हुनर का सही इस्तेमाल कर आप मनमाफिक नतीजे पा सकते हैं.

अगर आपको लगता है कि आपमें कुशलता है, लेकिन उसे और निखारने की जरूरत है तो आप उससे संबंधित प्रयास कर अपनी कुशलता को विकसित करिये.

मसलन आपको लगता है कि आप बढ़िया खाना पका सकते हैं तो अपनी इस कुशलता को निखारने के लिए आप होटल मैनेजमेंट की डिग्री हासिल कर पेशेवर सेफ बनने की दिशा में कदम बढ़ा सकते हैं.

यह ध्यान रखें कि जीवन में सफलता और पैसा कमाने के लिए दिमाग का सही दिशा में इस्तेमाल करना जरूरी है.

3. कड़ी मेहनत का विकल्प नहीं
आज आप जिस व्यक्ति को अपना आदर्श मानते हों या जिसके जैसा बनना चाहते हैं, उसके व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? संघर्ष की कहानी पढ़िये. पैसे और शोहरत कमाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है.

मशहूर निवेशक वारेन बफे हों या अमेजन के मालिक बेजोस या रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी, सपने देखने और जरूरी कुशलता हासिल करने के बाद जी तोड़ मेहनत की वजह से ही ये व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? आज सफलता के उस मुकाम पर खड़े हैं.

आपके सपने, जरूरी कुशलता और कड़ी मेहनत मिलकर ही आपके स्वर्णिम भविष्य की राह तैयार करते हैं.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

पैसे कमाने में आपकी मदद करेंगी ये तीन बातें

आपके सपने, जरूरी कुशलता और कड़ी मेहनत मिलकर ही आपके स्वर्णिम भविष्य की राह तैयार करते हैं.

earn1-thinkstock

1. सपने जरूर देखें
सपने देखने का मतलब है इमेजिनेशन. यह आपको कुछ बड़ा करने के लिए प्रेरित करता है. जब आप कुछ बड़ा काम करने के सपने देखेंगे तो उसे पूरा करने के लिए जरूरी योग्यता हासिल करने की तरफ बढ़ेंगे. आपको इन सपनों को कैसे पूरा करना है, इस बारे में किसी कुशल व्यक्ति से दिशानिर्देश लेने की भी जरूरत है.

2. अपनी कुशलता की पहचान करें
आपको खुद के बारे में यह जानना होगा कि आप कौन सा काम बेहतर तरीके से कर सकते हैं. अपने हुनर का सही इस्तेमाल कर आप मनमाफिक नतीजे पा सकते हैं.

अगर आपको लगता है कि आपमें कुशलता है, लेकिन उसे और निखारने की जरूरत है तो आप उससे संबंधित प्रयास कर अपनी कुशलता व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? को विकसित करिये.

मसलन आपको लगता है कि आप बढ़िया खाना पका सकते हैं तो अपनी इस कुशलता को निखारने के लिए आप होटल मैनेजमेंट की डिग्री हासिल कर पेशेवर सेफ बनने की दिशा में कदम बढ़ा सकते हैं.

यह ध्यान रखें कि जीवन में सफलता और पैसा कमाने के लिए दिमाग का सही दिशा में इस्तेमाल करना जरूरी है.

3. कड़ी मेहनत का विकल्प नहीं
आज आप जिस व्यक्ति को अपना आदर्श मानते हों या जिसके जैसा बनना चाहते हैं, उसके संघर्ष की कहानी पढ़िये. पैसे और शोहरत कमाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है.

मशहूर निवेशक वारेन बफे हों या अमेजन के मालिक बेजोस या रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी, सपने देखने और जरूरी कुशलता हासिल करने के बाद जी तोड़ मेहनत की वजह से ही ये आज सफलता के उस मुकाम पर खड़े हैं.

आपके सपने, जरूरी कुशलता और कड़ी मेहनत मिलकर ही आपके स्वर्णिम भविष्य की राह तैयार करते हैं.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

Real Estate : क्या है रियल एस्टेट ? कैसे कमाए पैसा इस व्यापार से ?

Real Estate : जीवन व्यतीत करने के लिए पैसा होना जरूरी है पैसा सबकी मांग है कोई अधिक पैसा कमाने की जुगत में लगा है तो कोई सीमित संसाधनों को चलाने के लिए आवश्यकतानुसार पैसा कमाना चाहता है । देश की बढ़ती आबादी में सरकार नौकरी सभी को मिलना आसान नहीं है कई युवा लोग ऐसे ही है जो वर्षों से नौकरी के लिए दर दर भटक रहे है और मिलती है सिर्फ निराशा । लेकिन जीवन को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें पैसे की जरूरत तो पड़ती ही है इसलिए खुद का बिजनेस शुरू करना एक शानदार कदम है ऐसा बिजनेस जो कम समय में बिना लागत लगाए अधिक पैसा बनाना हो तो आप रियल एस्टेट का बिजनेस शुरू कर सकते है । आज कल बहुत लोग रियल एस्टेट में काम करके अच्छा खासा पैसा कमा रहे है । ऐसे लोग साइड में बिजनेस भी करते है ।

क्या है रियल एस्टेट

आमतौर व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? पर बहुत से लोग रियल एस्टेट के बारे में नहीं जानते आखिर यह होता क्या है नाम तो रियल एस्टेट का बहुत सुनते है लेकिन इसका मतलब और काम कैसे होता है इससे अच्छी तरह वाकिफ नहीं होते है हम आपको अपने इस आर्टिकल के जरिए रियल एस्टेट से जुड़ी व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? पूरी व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? जानकारी बताएंगे। वैसे रियल एस्टेट का आशय किसी बिल्डिंग या भूखंड से लगाया जाता है रियल एस्टेट वह होता है जो किसी भी व्यक्ति को किसी विशेष स्थान या भवन मे हवाई अधिकार और भूमिगत अधिकार को प्राप्त करने में मदद करता है । आसान भाषा में अपनी और दूसरी की वास्तविक जमीन और भवनों की खरीद परोख्ट रियल एस्टेट के जरिए ही होती है ।

आपको बता दें कि वर्तमान समय में बहुत लोग रियल एस्टेट के बिजनेस से लाभ उठा रहे है क्योंकि अधिकतर लोगों का यह कमाई करने का बेहतरीन और अच्छा तरीका है। ऐसे कई लोग है जो रियल एस्टेट को साइड बिजनेस के रूप में शुरू कर देते है और फिर इसमें प्रॉफिट देखकर इसको अधिक और पहली प्राथमिकता देते है । इतिहास के पन्नों को पलटिए तो आप देखेंगे की प्राचीनकाल में सभी राजा अपने साम्राज्य की पूरी जमीन के मालिक होते थे और उस जमीन की देखरेख अच्छे तरीके से करवाने का काम करते थे। अगर आप और आसान भाषा में समझना चाहते है तो प्लाट का काम, मकान बनवाने का काम,दुकान बिल्डिंग फ्लैट, खरीदने और बेचने का काम जैसे आज के समय में होता है जिसे हम रियल एस्टेट कहते है ऐसा कुछ पहले भी होता था। आज वर्तमान स्थित में रीयल एस्टेट को चार भागों में विभाजित माना जाता है रेजिडेंशियल, कामर्शियल,इंडस्ट्रियल, और भूखंड को रियल एस्टेट की श्रेणी में आते है ।

कैसे करें रियल एस्टेट का बिजनेस

रियल एस्टेट का बिजनेस जितना आसान आप समझते है उतना है नहीं । साथ ही इतना कठिन भी नहीं है कि आप इसे कर और समझ न पाएं । भारत में रियल एस्टेट की बात करें तो बहुत से ऐसे उद्योगपति रहे है जो बिना किसी लागत के या बिना निवेश किए अपना बिजनेस इस क्षेत्र में करके अच्छी कमाई की है आप कुछ खास तरह के रियल एस्टेट बिजनेस शुरू कर अच्छी खासी कमाई कर सकते है ।

जमीन का बिजनेस – रियल एस्टेट में जमीन की खरीद पारोख्त का बिजनेस सबसे अच्छा और उत्तम बिजनेस माना गया है इसमें सिर्फ बचत ही नहीं बल्कि मोटी कमाई भी होती है । जमीन को सस्ते दामों में खरीदकर उसे कुछ महीने और साल भर बाद उससे अधिक दामों मे बेचकर आप मोटी कमाई कर सकते है बिजनेस को शुरू करने के लिए आप पार्टनरशिप भी कर सकते है आप जितनी अच्छी डीलिंग कर लेंगे सामने वाले से उतने अच्छे पैसे में आपकी जमीन का व्यापार हो जाएगा।

मकान , दुकान और फ्लैट का बिजनेस – जमीन खरीदने के बाद मकान, दुकान और फ्लैट खरीदना , बेचना रियल एस्टेट व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? का दूसरा सबसे अच्छा और शानदार बिजनेस है । पहले तो बनने से पहले कम दामों में फ्लैट बुक कर लीजिए फिर उसे अधिक दामों मे बेच दीजिए , इसी तरह मकान और दुकान की खरीद बिक्री कर सकते है । आप अगर सीधे मकान और फ्लैट नहीं खरीद पाते तो किसी का फ्लैट बिकवाकर कमीशन भी कमा सकते है।

कैसे बने रियल एस्टेट एजेंट

शायद आपको पता न हो लेकिन रियल एस्टेट एजेंट बनने वाले लोगों को प्रॉपर्टी डीलर भी कहते है एक सफल एजेंट बनने के लिए आपके पास बात करने और जमीन , मकान खरीदने और बेचने के लिए सामने वाली पार्टी से अच्छी तरह डील करना आना चाहिए। अच्छा डील करने वाला ही सफल प्रॉपर्टी डीलर कहलाता है । पहले जब रियल एस्टेट का बिजनेस शुरू करते थे तो रजिस्ट्रेशन कि जरूरत नहीं पड़ती थी लेकिन अब अगर आप बतौर रियल एस्टेट एजेंट के रूप में बिजनेस शुरू करना चाहते है तो आपको पंजीकरण करवाना जरूरी है। नहीं तो किसी प्रॉपर्टी में गड़बड़ी पाए जाने पर आप पर दलाल और चोरी का आरोप लग सकता है।

403 ERROR

The Amazon CloudFront distribution is configured to block access from your country. We can't connect to the server for this app व्यापारी इससे पैसा कैसे कमाता है? or website at this time. There might be too much traffic or a configuration error. Try again later, or contact the app or website owner.
If you provide content to customers through CloudFront, you can find steps to troubleshoot and help prevent this error by reviewing the CloudFront documentation.

रेटिंग: 4.58
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 212