राधे डेवलपर्स का स्टॉक 5 दिन, 20 दिन, 50 दिन, 100 दिन और 200 दिन की चलती औसत से अधिक है. इस साल की शुरुआत से अब तक माइक्रोकैप शेयर 3,603% बढ़ा है और एक साल में 3,540% बढ़ा है. बीएसई पर फर्म का मार्केट कैप बढ़कर 861.66 करोड़ रुपये हो गया. बीएसई पर कुल 1.30 लाख शेयरों ने हाथ बदल कर 4.44 करोड़ रुपये का कारोबार किया.

Markets, 26 November 2021: बाजार की बड़ी गिरावट के साथ शुरुआत, सेंसेक्स 700 अंक से ज्यादा टूटा, Nifty 240 पॉइंट नीचे

By: ABP Live | Updated at : 26 Nov 2021 26 सर्वश्रेष्ठ स्टॉक ब्रोकर्स 09:46 AM (IST)

Edited By: Meenakshi

शेयर बाजार (फाइल फोटो)

Stock Market Opening: आज शेयर बाजार की भारी गिरावट के साथ शुरुआत हुई है और सेंसेक्स में 722.92 अंक यानी 1.31 फीसदी की गिरावट के साथ 58,022.17 पर कारोबार शुरू हुआ. मिडकैप इंडेक्स में 400 अंकों की गिरावट के साथ ट्रेड शुरुआती कारोबार में ही देखा गया. निफ्टी में 192-193 अंकों की गिरावट के साथ ट्रेडिंग की शुरुआत हुई और इसमें सारे 50 शेयर गिरावट के साथ कारोबार करते देखे गए. सुबह 9ः23 पर निफ्टी 17293 पर कारोबार कर रहा था और ये इसी समय पर 240 अंकों की गिरावट के साथ दिखा.

प्री-मार्केट ओपनिंग में भी दिखी भारी कमजोरी
आज प्री-ओपनिंग में बाजार में भारी कमजोरी देखी गई और सेंसेक्स में 500 अंकों से ज्यादा की गिरावट देखी गई. सुबह 9 बजकर 13 मिनट पर सेंसेक्स 540.3 अंक यानी 0.92 फीसदी की गिरावट के साथ 58,254.79 पर कारोबार करता देखा गया.

बड़े ब्रोकर्स पर बढ़ेगी निगरानी, बैंकों की तरह सिस्टमकली इंपॉर्टेंट ब्रोकर्स रेगुलेशन लागू करेगा सेबी

Sebi: सूत्रों के मुताबिक पिछले महीने सेबी ने इसी 26 सर्वश्रेष्ठ स्टॉक ब्रोकर्स मामले पर ब्रोकर्स की बैठक बुलाई थी. जिसमें मोटे तौर संभावित नियमों की जानकारी दे दी गई है.

बड़े ब्रोकर्स के लिए सिस्टमकिली इंपॉर्टेंट ब्रोकर का दर्जा. (File Photo)

Sebi: बड़े शेयर और कमोडिटी ब्रोकर्स के लिए जल्द ही नए नियम लाकर निगरानी बढ़ाने की तैयारी है. ताकि निवेशकों और पूरे मार्केट के लिए जोखिम को कम किया जा सके. ज़ी बिजनेस ने जून में बताया था कि रिजर्व बैंक (RBI) जिस तरह से 'टू बिग टू फेल' वाले बैंक जिन्हें सिस्टमकली इंपॉर्टेंट बैंक कहा जाता है. उसी तर्ज पर सिस्टमकली इंपॉर्टेंट ब्रोकर्स के कॉन्स्पेट पर विचार कर रही है. अब ताजा अपडेट ये है कि इस पर चर्चा हो रही है और आगे रेगुलेशन लाने की तैयारी है. सूत्रों के मुताबिक पिछले महीने सेबी ने इसी मामले पर ब्रोकर्स की बैठक बुलाई थी. जिसमें मोटे तौर संभावित नियमों की जानकारी दे दी गई है.

कहां होगा फोकस

सूत्रों की मानें तो सेबी (Sebi) का सबसे ज्यादा फोकस ब्रोकर्स के लिए कॉरपोरेट गवर्नेंस नियम लाने पर है. जिसमें इंडिपेंडेंट डायरेक्टर्स की नियुक्ति, ऑडिट कमेटी बनाने, रिस्क मैनेजमेंट कमेटी बनाने जैसी बातें शामिल की जाएंगी. ताकि बोर्ड की निगरानी में ब्रोकिंग फर्म्स में कोई गड़बड़ी नहीं होने पाए. इसके अलावा कंप्लायंस बेहतर और तकनीकी तौर पर ब्रोकिंग फर्म्स बेहतर तरीके से काम कर पाएं ये भी पक्का किया जाएगा. साइबर सेफ्टी भी एक अहम हिस्सा होगा.

सूत्रों की मानें तो सब कुछ ठीक चले तो सेबी की मंशा 26 सर्वश्रेष्ठ स्टॉक ब्रोकर्स इसे नए कारोबारी साल से अमल में लाने की है. इसी मामले पर चर्चा के लिए सेबी ने पिछले महीने सभी बड़े ब्रोकर्स को बुलाकर बैठक की थी. जिसमें मौटे तौर पर ड्राफ्ट नियमों को लेकर चर्चा की गई. दरअसल,शेयर बाजार के कामकाज में ब्रोकर काफी अहम कड़ी हैं। इसलिए अगर किसी बड़े ब्रोकर का कारोबार ठप होता है या फिर किसी तरह की गड़बड़ी होती है तो बाजार के एक बड़े हिस्से पर प्रभाव पड़ता है. ऐसे में सेबी ऐसी चिंताओं को दूर करना चाहती है.

चुनाव के लिए किन पैमानों पर विचार

जानकारों की मानें तो सिस्टमकली इंपॉर्टेंट ब्रोकर्स के चुनाव के लिए सबसे अहम पैमाना क्लाइंट्स की संख्या हो सकती है. इसके अलावा ब्रोकिंग फर्म्स 26 सर्वश्रेष्ठ स्टॉक ब्रोकर्स का टर्नओवर और क्लाइंट्स की कितनी बड़ी रकम वो संभालते हैं ये भी एक पैमाना हो सकता है. सेबी इसके अलावा दूसरे और पैमाने भी तय कर सकती है.

ब्रोकिंग फर्म मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक नवंबर तक देश के सबसे बड़े एक्सचेंज NSE के कुल एक्टिव क्लाइंट्स की संख्या का 59% टॉप 5 डिस्काउंट ब्रोकिंग फर्म्स के पास है, जबकि बड़े डिस्काउंट ब्रोकिंग फर्म्स की शुरुआत एक तरह से स्टार्टअप से हुई है. स्टार्टअप्स में कुछ गिनती के लोग ही डिसीजन मेकर होते है. इसका फायदा ये होता है कि फैसले तेजी से होते हैं. अमल भी तेज होता है लेकिन सेबी की मंशा है कि नए नियमों के जरिए व्यवस्था को और बेहतर किया जाए. ताकि कोई गड़बड़ी होने पर विपरीत असर कम हो.

Multibagger Stock Tips: तीन महीने में इस पेनी स्टॉक ने 1 लाख रुपये को बना दिया 20 लाख रुपये, क्या आपने खरीदा?

By: ABP Live | Updated at : 26 Nov 2021 08:23 PM (IST)

Multibagger Stock: राधे 26 सर्वश्रेष्ठ स्टॉक ब्रोकर्स डेवलपर्स के स्टॉक ने तीन महीने में अपने शेयरधारकों को 1,904% रिटर्न दिया है. 26 अगस्त 2021 को यह पेनी स्टॉक 17.07 रुपये था, जो शुक्रवार को बीएसई पर 342.20 रुपये के उच्च स्तर पर पहुंच गया. तीन महीने पहले राधे डेवलपर्स के शेयर में निवेश की गई एक लाख रुपये की रकम आज 20.04 लाख रुपये हो जाती. इसकी तुलना में इस दौरान सेंसेक्स 2.87 फीसदी चढ़ा है.

राधे डेवलपर्स के शेयर शुक्रवार को 342.2 रुपये के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गए, जो बीएसई पर 325.95 रुपये के पिछले बंद के मुकाबले 4.99% बढ़ गया. शेयर आज 5% की तेजी के साथ खुला और दोपहर के सत्र में अपर सर्किट में फंसा रहा. पिछले 21 दिनों में शेयर में 177.87% की तेजी आई है.

Markets, 26 November 2021: बाजार की बड़ी गिरावट के साथ शुरुआत, सेंसेक्स 700 अंक से ज्यादा टूटा, Nifty 240 पॉइंट नीचे

By: ABP Live | Updated at : 26 Nov 2021 09:46 AM (IST)

Edited By: Meenakshi

शेयर बाजार (फाइल फोटो)

Stock Market Opening: आज शेयर बाजार की भारी गिरावट के साथ शुरुआत हुई है और सेंसेक्स में 722.92 अंक यानी 1.31 फीसदी की गिरावट के साथ 58,022.17 पर कारोबार शुरू हुआ. मिडकैप इंडेक्स में 400 अंकों की गिरावट के साथ ट्रेड शुरुआती कारोबार में ही देखा गया. निफ्टी में 192-193 अंकों की गिरावट के साथ ट्रेडिंग की शुरुआत हुई और इसमें सारे 50 शेयर गिरावट के साथ कारोबार करते देखे गए. सुबह 9ः23 पर निफ्टी 17293 पर कारोबार कर रहा था और ये इसी समय पर 240 अंकों की गिरावट के साथ दिखा.

प्री-मार्केट ओपनिंग में भी दिखी भारी कमजोरी
आज प्री-ओपनिंग में बाजार में भारी कमजोरी देखी गई और सेंसेक्स में 500 अंकों से ज्यादा की गिरावट देखी गई. सुबह 9 बजकर 13 मिनट पर सेंसेक्स 540.3 अंक यानी 0.92 फीसदी की गिरावट के साथ 58,254.79 पर कारोबार करता देखा गया.

Multibagger Stock Tips: तीन महीने में इस पेनी स्टॉक ने 1 लाख रुपये को बना दिया 20 लाख रुपये, क्या आपने खरीदा?

By: ABP Live | Updated at : 26 Nov 2021 08:23 PM (IST)

Multibagger Stock: राधे डेवलपर्स के स्टॉक ने तीन महीने में अपने शेयरधारकों को 1,904% रिटर्न दिया है. 26 अगस्त 2021 को यह पेनी स्टॉक 17.07 रुपये था, जो शुक्रवार को बीएसई पर 342.20 रुपये के उच्च स्तर पर पहुंच गया. तीन महीने पहले राधे डेवलपर्स के शेयर में निवेश की गई एक लाख रुपये की रकम आज 20.04 लाख रुपये हो जाती. इसकी तुलना में इस दौरान सेंसेक्स 2.87 फीसदी चढ़ा है.

राधे डेवलपर्स के शेयर शुक्रवार को 342.2 रुपये के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गए, जो बीएसई पर 325.95 रुपये के पिछले बंद के मुकाबले 4.99% बढ़ गया. शेयर आज 5% की तेजी के साथ खुला और दोपहर के सत्र में अपर सर्किट में फंसा रहा. पिछले 21 दिनों में शेयर में 177.87% की तेजी आई है.

रेटिंग: 4.87
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 470